29 Sep 2022, 02:54 HRS IST
  • सऊदी अरब के राजकुमार सलमान को देश का प्रधानमंत्री नियुक्त किया गया
    सऊदी अरब के राजकुमार सलमान को देश का प्रधानमंत्री नियुक्त किया गया
    लालू ने राजद अध्‍यक्ष पद के लिए किया नामांकन दाखिल
    लालू ने राजद अध्‍यक्ष पद के लिए किया नामांकन दाखिल
    सपा का नौवां प्रांतीय अधिवेशन
    सपा का नौवां प्रांतीय अधिवेशन
    यमुना में जलस्तर बढ़ा
    यमुना में जलस्तर बढ़ा
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम खेल
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • राहुल को पहली जीत का इंतजार, शिखर धवन है सफल कप्तान

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 12:35 HRS IST

नयी दिल्ली, 12 अगस्त (भाषा) केएल राहुल को फिट होने के बाद भले ही जिंबाब्वे दौरे के लिए भारतीय टीम की कमान सौंपी गई हो लेकिन उन्हें अब भी अपनी कप्तानी में पहली जीत का इंतजार है जबकि शिखर धवन भारत के सफल कप्तानों में शामिल है जिन्हें पहले इस दौरे में टीम की अगुवाई करनी थी।

भारतीय क्रिकेट बोर्ड ने राहुल को रोहित शर्मा के साथ तीनों प्रारूपों में उप कप्तान बना रखा है और इसलिए उनके फिट होने पर उन्हें जिंबाब्वे दौरे के लिए धवन की जगह कप्तानी सौंपी गई।

लेकिन राहुल ने अभी तक जिन चार अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैचों में कप्तानी की है उन सभी में भारत को हार का सामना करना पड़ा। इनमें एक टेस्ट और तीन एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच शामिल हैं।

दूसरी तरफ धवन ने छह एकदिवसीय मैचों में भारतीय टीम की कमान संभाली है जिनमें से पांच मैचों में टीम को जीत मिली। इसके अलावा धवन ने तीन टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैचों में भी कप्तानी की है जिनमें उनका रिकॉर्ड एक जीत और दो हार है।

धवन ने पिछले साल जुलाई में पहली बार भारतीय टीम की कप्तानी की थी। वह हाल में वेस्टइंडीज के वनडे दौरे में भी टीम के कप्तान थे। वेस्टइंडीज के खिलाफ जहां भारतीय टीम ने तीन वनडे की श्रृंखला में क्लीनस्वीप किया वहीं श्रीलंका के खिलाफ उसने श्रृंखला 2-1 से जीती थी।

पिछले साल श्रीलंका के खिलाफ भारतीय टीम टी20 श्रृंखला में 1-2 से हार गई थी।

राहुल ने इस साल जनवरी में दक्षिण अफ्रीकी दौरे में रोहित शर्मा की अनुपस्थिति में पहली बार भारतीय टीम की अगुवाई की थी। उनके नेतृत्व में भारत ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ जो तीन वनडे मैच खेले थे उन सभी में उसे हार का सामना करना पड़ा था।

इस दौरे के दूसरे टेस्ट मैच में तत्कालीन कप्तान विराट कोहली के पूरी तरह फिट नहीं होने के कारण राहुल को पहली बार टेस्ट क्रिकेट में कप्तानी का मौका मिला था लेकिन भारत यह मैच सात विकेट से हार गया था।

राहुल ने इस साल फरवरी के बाद कोई अंतरराष्ट्रीय मैच नहीं खेला है। उन्हें वेस्टइंडीज के खिलाफ श्रृंखला में खेलना था लेकिन कोविड-19 के लिए पॉजिटिव पाए जाने के कारण वह नहीं खेल पाए थे।



  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।