29 Sep 2022, 04:14 HRS IST
  • सऊदी अरब के राजकुमार सलमान को देश का प्रधानमंत्री नियुक्त किया गया
    सऊदी अरब के राजकुमार सलमान को देश का प्रधानमंत्री नियुक्त किया गया
    लालू ने राजद अध्‍यक्ष पद के लिए किया नामांकन दाखिल
    लालू ने राजद अध्‍यक्ष पद के लिए किया नामांकन दाखिल
    सपा का नौवां प्रांतीय अधिवेशन
    सपा का नौवां प्रांतीय अधिवेशन
    यमुना में जलस्तर बढ़ा
    यमुना में जलस्तर बढ़ा
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम विदेश
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • कोविड-19 के बाद न्यूजीलैंड ने पहले क्रूज जहाज का स्वागत किया

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 12:15 HRS IST

वेलिंगटन, 12 अगस्त (एपी) न्यूजीलैंड ने कोविड महामारी शुरू होने के बाद, शुक्रवार को पहले क्रूज जहाज का स्वागत किया, जो देश के पर्यटन उद्योग के सामान्य स्थिति में लौटने का संकेत है।

न्यूजीलैंड ने कोविड-19 को पूरी तरह से खत्म करने और बाद में इसके प्रसार को नियंत्रित करने के लिए 2020 की शुरुआत में अपनी सीमाओं को बंद कर दिया था। हालांकि, देश ने मई में विमान से आने वाले पर्यटकों के लिए अपनी सीमाओं को फिर से खोल दिया, लेकिन समुद्री जहाजों के आगमन सहित शेष सभी प्रतिबंधों को उसने दो हफ्ते पहले ही हटाया है।

क्रूज (समुद्री पर्यटन) उद्योग से जुड़े कई लोग सवाल करते हैं कि इसमें इतना समय क्यों लगा।

प्रतिबंधों की समाप्ति के बाद सिडनी से रवाना हुए कार्निवल ऑस्ट्रेलिया के पैसिफिक एक्सप्लोरर क्रूज जहाज को 12-दिवसीय यात्रा के लिए फिजी जाने के क्रम में वापसी में शुक्रवार को सुबह ऑकलैंड में लंगर डालने की अनुमति दी गई। जहाज पर लगभग 2,000 यात्री और चालक दल के सदस्य सवार हैं।

पर्यटन मंत्री स्टुअर्ट नैश ने एसोसिएटेड प्रेस से कहा, ‘‘अद्भुत, है ना? हमारी सीमाओं को फिर से खोलने की दिशा में यह एक और कदम है और हमेशा की तरह व्यापार फिर से शुरू करने के करीब है।’’ अंतरराष्ट्रीय पर्यटकों की संख्या और राजस्व को उनके पूर्व-महामारी के स्तर पर लौटने में कुछ समय लगेगा, जब उद्योग का न्यूजीलैंड की विदेशी आय में लगभग 20 प्रतिशत और सकल घरेलू उत्पाद में पांच प्रतिशत से अधिक का योगदान होता था।

नैश ने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि पर्यटन क्षेत्र में ऐसे कई लोग हैं जिन्होंने पिछले दो वर्षों में काफी कठिनाई झेली है। लेकिन हमने हमेशा एक ऐसा दृष्टिकोण अपनाया है जहां हमें यह सुनिश्चित करने की आवश्यकता है कि हमें स्वास्थ्य प्रतिक्रिया सही तरह से मिले, क्योंकि अगर हम ऐसा नहीं करते हैं, तो हम जानते हैं कि इसके गंभीर परिणाम होंगे।’’

एपी सुरभि मनीषा प्रशांत प्रशांत 1208 1213 वेलिंगटन

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।
  • इस खण्ड में